Holi Festival Kyu Manaya Jata Hai, होली का त्यौहार

Holi Festival Kyu Manaya Jata Hai, होली का त्यौहार




होली भारत का मुख्य पर्व है बल्कि यह कहना गलत नहीं होगा की समूचे भारत वर्ष में सबसे प्रसिद्ध त्योहार है, जो आज विश्व के अनेको देश में मनाये जाने लगा है। रंगो के इस त्यौहार में गीले और सूखे रंगो से हर तरफ एक अलग नज़ारा देखने को मिलता है ऐसा लगता हो की इंद्रधनुष आसमान की ऊंचाइयों से नीचे ज़मीन पर उतर आया हो जिसमे प्रत्येक भारत वर्ष के लोग बड़े हर्षो उल्लास के साथ आपस में रंग लगा कर इस पर्व को मनाते हैं।
इसके अलावा लोग सड़को पर मंच लगाकर  मंजीरा, ढोलक, मृदंग और अन्य वाद्य यंत्र के साथ गीत गाकर नाचते हुए भी इसका आनंद उठाते हैं।  होली का त्योहार, फाल्गुन माह के पूर्णिमा को मनाया जाता है। जिसका शुभारम्भ होलिका दहन की पूजा के साथ शुरू होता है।
होलिका दहन क्या है ? Holika Dahan Kya Hai 
होलिका दहन होली के पर्व का मुख्य हिस्सा है। बिना होलिका दहन के होली के पर्व को मनाया जाना संभव नहीं है। जिस दिन लोग होली का पर्व मनाते हैं ठीक कुछ घंटो पहले एक मुहूर्त के साथ शुरू होता है।
होली का त्यौहार, फाल्गुन माह के पूर्णिमा को मनाया जाता है यह त्यौहार वसन्त ऋतु में होता है। होली के १५ दिन पहले लोग लकड़ी को इकठ्ठा करना शुरू करते हैं। यह पार्क या किसी चौराहे पर लोग करते हैं। जिस दिन होलिका को जलाया जाता है सभी अपने घरों से निकलकर इस होलिका दहन में एकत्रित होते हैं और अपने जीवन की सभी विसंगतियों को दूर करने के लिए पूजा अर्चना करतें हैं। क्योंकि होलिका एक पवित्र कन्या थी और महाराजा हिरण्यकश्यप की बहन थी।
होलिका दहन क्यों किया जाता है ? Holika Dahan Kyu Kiya Jata Hai 
इसमें अनेको दन्त कथाये हैं जिसमे मुख्य कहानी के पात्र महाराजा हिरण्य कश्यप और राजकुमार प्रह्लाद एवं महाराजा हिरण्य कश्यप की बहन होलिका जी की है।




Holika Story – होलिका कहानी 
इतिहास के अनुसार एक वर्ग का मानना है की विष्णु में प्रह्लाद की आस्था थी जिसकी वजह से महाराजा हिरण्य कश्यप जो की बहुत शक्तिशाली थे उनको इस बात से बहुत कष्ट हो गया की मेरा पुत्र विष्णु के साथ क्यों है। इसके लिए महाराजा एक योजना के अनुसार लकड़ियों का ढेर इकठ्ठा करवाते हैं और अपनी बहन होलिका यानी राजकुमार प्रह्लाद की सगी बुआ जिनकी शादी अगले कुछ घंटों में पुरे राज्य में हर्षो उल्लास के साथ मनाई जानी थी फिर भी उनको आदेश देते हैं की प्रह्लाद को इस अग्नि के लिए इकठ्ठा की गयी लकड़ियों के ऊपर बैठ जाय जिसके बाद होलिका जल कर मर जाती हैं और प्रह्लाद बच जाते हैं। जिसके कारण होली मनाई जाती है।
Radha Krishna Holi Story – राधा कृष्ण की होली 
वहीँ दूसरी तरफ यह कहानी राधा कृष्ण के प्रेम के लिए मशहूर है वैसे तो होली का त्यौहार पुरे भारत वर्ष में मनाया जाता है। होली का त्यौहार देखने के लिए और इसका आनंद उठाने के लिए आज के समय में विश्व के कोने कोने से लोग ब्रज, वृन्दावन, गोकुल जैसे स्थानों पर आते है. इन जगहों पर यह त्यौहार कई दिनों तक मनाया जाता हैं। ब्रज में होली की ऐसी प्रथा है जिसको लोग लट्ठ मार होली भी कहते हैं जिसमे पुरुष महिलाओं पर रंग डालते है और महिलाए उन्हें डंडे से मारती है। इस तरह की होली केवल बृज में होती है जिसे बृज की होली भी कहतें हैं।
यहां पर आपको भगवान् कृष्ण के अनेको मंदिर मिलेंगे जिसमे भक्त लोग भगवन के साथ फूलों की होली खेलते हैं और उनके साथ आनंद उठाते हैं। इस तरह की होली को देखने और खेलने का आनंद अलग सा होता है।
North India Holi – उत्तर भारत की होली – बिहार की होली 
उत्तर भारत के राज्य बिहार में भी होली का अपना अलग ही तरीका है जिसमे लोग चौपाल लगाकर फूहड़ गीत गाकर आनंद उठाते हैं। यहां पर लोग दिन में होली के रंग से खेलते हैं और शाम होते ही सभी बड़े, बुजुर्ग का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए एक दूसरे के घरों में जाते हैं।

Kanpur Ki Holi – कानपुर की होली 

कानपुर की होली भी काफी मशहूर होली है जिसका अपना अलग इतिहास है यहां होली के एक दिन पहले अंग्रेजों ने बहुत लोगो को पकड़ कर जेल में डाल दिया था और जब यह सभी लोग जेल से बाहर आये तो उस दिन शहरवासियों ने होली के त्यौहार को इस तरह यहां होली गंगा मेला तक चलती है जो की लगभग एक सप्ताह तक की होती है। क्योंकि गंगा मेला को हो सभी क्रन्तिकारी जेल से छूट कर बाहर आये थे इसलिए गंगा नदी के सरसैया घाट पर ही इसका समापन होता है।
Maharshtra Ki Holi – महाराष्ट्र की होली 
महाराष्ट्र में होली आपको एक अलग अंदाज़ में देखने को मिलती है यहां पर आपको लोग टोली बनाकर चलते हुए दिखाई देते हैं और रंगो के इस त्योहार का आनंद उठाते हैं।
Shivalya Holi – शिवालय की होली 
भगवान शिव के साथ सभी शिवालयों में होली का त्यौहार मनाया जाता है जिसमे भक्त  लोग सबसे पहले महादेव शिव के साथ होली के रंग को लगाते हैं उसके बाद ही होली को अन्य लोगों के साथ खेलते हैं। महादेव भक्त लोग भाँग की लस्सी का भी आयोजन करतें हैं और होली का आनंद उठाते हैं।




Banaras Ki Holi – बनारस की होली 
होली की बात हो और बनारस की होली का जिक्र ना हो ऐसा संभव नहीं। यहां की होली का आनंद आपको पुरे शहर में दिखाई देगा। बाबा विश्वनाथ मंदिर के आस पास और घाट पर होली का अद्भुत नज़ारा आपको प्रशन्नता से भर देता है। शाम होते ही कवियों की वाणी आपको मंत्र मुग्ध कर देती है। इसलिए जीवन काल में एक बार यहां पर भी होली का आनंद उठायें।
होली के पकवान ?
रंगो के इस त्यौहार सभी बच्चे, पुरुष और महिलाये सभी लोग होली का आनंद उठाते हैं। सभी घरों में पकवान, गुझिया और अन्य प्रकार के खाने के सामग्रियों को बनाते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में आलू और साबूदाने के पापड़ और चिप्स होली से दस दिन पहले से बनाना शुरू कर देतें हैं। इन सब में गुझिया जो की सभी जगह पर बनाई जाती है।
२०२० की होली 
समय के साथ होली का पर्व भी अनेको तरीके से मनाया जाता है जिसमे लोग केमिकल युक्त सामग्री और अन्य घातक सामग्री को समझ नहीं होने के कारण खरीद लाते हैं। इसलिए आपको होली के पर्व में इन सभी बातों का अवश्य ध्यान रखना चाहिए।
Holi Precaution – होली में सावधानियाँ कैसे बरतें ?
होली प्रेम का त्यौहार है इसलिए इसे सबके साथ प्रेम पूर्वक मनाना चाहिए। इसलिए यदि कोई रंग से नहीं खेलना चाहता  है तो ज़बरदस्ती बिलकुल नहीं करना चाहिए।
खाने पीने की सामग्रियों के आस पास किसी भी प्रकार का रंग खेलने से बचे।
मिलावटी खाने पीने योग्य सामग्रियों को खाने से बचे।
केमिकल युक्त रंगो को बाज़ार से नहीं खरीदे इससे किसी की त्वचा को नुकसान पहुँच सकता है।
होली सौहार्द और प्रेम पूर्वक खेलने के लिए है इसलिए किसी के साथ अभद्रता नहीं करें।
होली की शायरी और गीत 
Holi Shayri – Holi Geet
होली की शायरी और गीत जगह जगह पर होते हैं जिसमे आपको जोगीरा शा रा रा  का गीत आपको और ज़्यादा प्रशन्नता से भर देता है। जोगीरा अवधी व भोजपुरी, काव्य व नाटक की एक मिश्रित विधा होती है। इसमें हास्य और व्यंग का पुट होता है। जब होली में रंगों का धमाल और भांग की मस्ती के साथ में जोगीरा की तान और साथ में मजीरा, मृदुल का साथ हो तो इसका आनंद और ज़्यादा बढ़ जाता है।
Holi जोगीरा शा रा रा रा रा
पेश है इसकी कुछ पंक्तियाँ आपके लिए …….
का समझोगे चचाजान २१वीं सदी का ट्रेंड
भरी फाग मा कह गयी गोरी लव यू एज फ्रेंड 
           जोगीरा शा रा रा रा रा  
आप सभी को होली की हार्दिक शुभकामनाये। अन्य सभी प्रकार की जानकारियों के लिए पढ़ते रहें। लाइक और कमेंट करके ज़रूर बताये।

Leave a Reply