MBBS Kya hai? MBBS Full Form क्या है?

MBBS Kya hai? MBBS Full Form क्या है?

MBBS Kya hai मेडिकल फील्ड में ग्रेजुएशन लेवल का एक कोर्स होता है। मेडिकल फील्ड का यह सबसे बड़ा कोर्स माना जाता है। MBBS Full Form यानी चिकित्सा स्नातक और शल्य चिकित्सा स्नातक। आसान भाषा में कहें तो MBBS मेडिकल क्षेत्र में एक ग्रेजुएशन डिग्री का कोर्स है, यह डिग्री पूरा होने के लिए 5.5 साल का टाइम लगता है। यह एकमात्र स्नातक की डिग्री है।

जिसके पूरा करने के बाद छात्र अपने नाम के आगे डॉक्टर शब्द का टाइटल लगा सकते हैं। MBBS kya hai अवधि और सामाजिक प्रतिष्ठा के अनुसार दुनिया का सबसे बड़ा कोर्स माना जाता है। Biology, physics एवं chemistry से इंटरमीडिएट करने वाला स्टूडेंट की पहली पसंद MBBS होती है। भारत में MBBS कोर्स में प्रवेश पाने के लिए स्टूडेंट को chemistry and biology का के साथ अपनी 10+2 शिक्षा पूरी करनी होती है, और न्यूनतम 50% अंक अतिरिक्त वर्ग में के मामले में 40% स्कोर करना होता है। MBBS प्रवेश परीक्षा के लिए स्टूडेंट की उम्र 17 से 25 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

ऐसे कई तरीके हैं, जिनके माध्यम से एक स्टूडेंट MBBS पाठ्यक्रम में प्रवेश ले सकता है। लेकिन भारत में प्रैक्टिस करने में सक्षम होने के लिए एक आवश्यक शर्त अब MBBS के लिए NEET है। भारत में एक MBBS कोर्स 5 साल का होता है। भारत ने हमेशा शिक्षा पर बहुत जोर दिया है। और यह MBBS पाठ्यक्रम के लिए भी सही है, मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया ने MBBS पाठ्यक्रम में पाठ्यक्रम के बारे में स्पष्ट रूप से परिभाषित और और सख्त दिशा-निर्देश दिए हैं। जो संस्थान MBBS कोर्स के लिए दिशा-निर्देशों से चिपके रहते हैं, वह अक्सर मेडिकल काउंसलिंग ऑफ इंडिया के अंतिम छोर पर होते हैं। जिनमें D-मान्यता भी शामिल होती हैं।

Read More: DM Kya hai? DM Full Form क्या है?

MBBS Course करने के दूसरे Option क्या हैं?

MBBS करने का दूसरा तरीका विदेश में पढ़ाई है। हर साल लाखों छात्र NEET Exam के लिए उपस्थित होते हैं। NEET full form का मतलब NATIONAL ELIGIBILITY CUM ENTRANCE TEST है। हालांकि वे NEET Exam को पास करने में सभी स्टूडेंट्स सक्षम होते हैं। लेकिन भारत में एक अच्छा कॉलेज में प्रवेश पाने के लिए अच्छे रैंक का होना ज़रूरी है। इसलिए उनके लिए सबसे अच्छा विकल्प एक अच्छा MBBS कॉलेज में उनके संदर्भ के अनुसार विदेशों में से एक में प्रवेश लेना है। ऐसा कई देश हैं, जो भारत में पेश किए जाने वाले MBBS Course की पेशकश करते हैं। जिसमें कुछ उदाहरण नेपाल और बांग्लादेश हैं।

छात्रों को उनके MBBS Course के दौरान कई विषयों के अध्ययन करना होता है। MBBS kya hai इसके पहले वर्ष में 3 सब्जेक्ट होते हैं। Anatomy, Biochemistry और Physiology है। अंतिम वर्ष में छात्र मेडिसिन सर्जरी ऑर्थोपेडिक्स सहित बाल रोग और स्त्री रोग और प्रसूति विज्ञान का अध्ययन करते हैं। फिर छात्र को MBBS पाठ्यक्रम के अंत में 1 वर्ष की अनिवार्य इंटर्नशिप करनी होगी, लगभग एक समान पैटर्न उन छात्रों के लिए है, जो विदेश में अध्ययन करने के की इच्छा रखते हैं। हालांकि एडमिशन के लिए प्रत्येक वर्ष में इनकी संख्यां बदलती रहती है।

What is MBBS full form? MBBS का पूरा नाम क्या है?

MBBS full form: Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery है।

जबकि MBBS Full Form in Hindi “चिकित्सा स्नातक और शल्य चिकित्सा स्नातक” कहते हैं। MBBS एक मास्टर डिग्री है, जिसे प्राप्त करने के बाद आप डॉक्टर बन सकते हैं।

Read More: IAS Full Form क्या है?

Read More: JPEG Full Form क्या है?

प्रवेश परीक्षा (Entrance Examination) कैसे होती है?

वर्तमान समय में MBBS प्रवेश परीक्षा का आयोजन NEET द्वारा किया जाता है। इस परीक्षा में भारत के सभी सरकारी एवं प्राइवेट मेडिकल कॉलेज की सीटों को सम्मिलित किया जाता है। कुछ संस्थान इसके लिए अलग से परीक्षा का आयोजन करते हैं। MBBS के लिए AIIMS, JIPMER और AFMC के द्वारा अलग से प्रवेश परीक्षा के आयोजन किया जाता है।

MBBS Course Fee क्या है?

भारत में MBBS कोर्स करने के लिए प्राइवेट एवं गवर्नमेंट कॉलेज दोनों उपलब्ध हैं। इन दोनों में फीस का बहुत ही अंतर रहता है। सरकारी मेडिकल कॉलेज में सबसे कम फीस AIIMS की होती है। यहां की फीस ₹1390 प्रतिवर्ष है। बल्कि आर्मी मेडिकल कॉलेज की फीस ₹56500 प्रति वर्ष होती है।

इस कोर्स की फीस प्राइवेट कॉलेज में सबसे अधिक रहती है। यहां की फीस इसकी 9 लाख से लेकर 12 लाख प्रति वर्ष रहती है। इस कोर्स की 5.5 वर्ष की अवधि में 4.5 की अवधि तक छात्रों द्वारा फीस का भुगतान किया जाता है। अंतिम 1 वर्ष इंटर्नशिप होती है। इसमें छात्रों को फीस नहीं देनी होती है।

Note: प्रत्येक यूनिवर्सिटी का Fee structure अलग अलग होता है।

भारत के टॉप 10 मेडिकल कॉलेज

अभी तक आपने MBBS Kya hai इसके बारे में पढ़ा। अब जानते हैं की भारत में एमबीबीएस करने के लिए टॉप कॉलेज या यूनिवर्सिटी कौन हैं।

  1. All India Institute of Medical Sciences – New Delhi
  2. Post Graduate Institute of Medical Education and Research- Chandigarh
  3. Christian Medical College- Vellore
  4. Kasturba Medical College- Manipal
  5. Aligarh Muslim University- Aligarh
  6. King George`s Medical University- Lucknow
  7. Institute of Liver and Biliary Sciences- Delhi
  8. Sri Ramachandra Medical College and Research Institute – Chennai
  9. Jawaharlal Institute of Post Graduate Medical Education & Research- Pondicherry
  10. Banaras Hindu University- Varanasi

MBBS का सिलेबस क्या है?

इसके सिलेबस में थोड़ा बहुत बदलाव किया गया है। नए सिलेबस के तौर पर ग्रेजुएशन में स्टूडेंट्स को मास्टर लेवल के भी सब्जेक्ट्स पढ़ाएं जाते हैं। यह सब जाता है की MBBS करने के बाद स्टूडेंट पूरी तरह से डॉक्टर बनने के लिए तैयार किये जा सके।

इन सभी सिलेबस में स्टूडेंट्स को थ्योरी के साथ ही प्रैक्टिकल्स पर भी पूरा ध्यान दिया जाता है।

Semester 1-2 (Pre-Clinical): Anatomy, Biochemistry, Physiology
Semester 3-5 (Para- Clinical): Semesters Community Medicine; Forensic Medicine, Pathology, Pharmacology, Microbiology, Clinical postings in wards, OPD
Semester 6-9 (Clinical): Community Medicine, Medicine and allied subjects (Psychiatry, Dermatology); Obst. Gynae: Pediatrics; Surgery and allied subjects (Anesthesiology, E.N.T., Ophthalmology, Orthopedics); Clinical postings

MBBS Job Profile क्या है?

  • Neurologist
  • Nutritionist
  • Obstetrician
  • Chiropodist
  • Medical admitting officer
  • Clinical laboratory scientist
  • Anaesthetist or Anesthesiologists
  • Dermatologist
  • Enterologist
  • Gynecologist
  • Orthopedist
  • Paediatrician
  • Technologist
  • General surgeon
  • N.T specialist
  • Chief medical officer
  • Gastroenterologist
  • General Practitioner
  • Physician
  • Physiologist
  • Radiologist
  • Bacteriologist
  • Hospital administrator
  • Cardiologist
  • Resident medical officer

MBBS के बाद रोजगार के क्षेत्र

● Hospitals
● Polyclinics
● Health centres
● Liabilities
● Nursing Home
● Medical College
● Private practice
● Medical foundation
● Biomedal companions
● Research instates
● Non profit organisation
● Pharmaceutical & Biotechnology companies

MBBS करने के बाद जॉब स्कोप क्या है?

General physician एमबीबीएस डिग्री धारक अपने करियर एक सामान्य फिजिशियन के रूप में शुरू कर सकते हैं। जो मरीजों की बीमारियों का अध्ययन निधान इलाज करता है। आमतौर पर एक फिजियन प्राथमिक कारणों में बीमारियों का इलाज करता है। और यदि निदान के बाद रोड महत्वपूर्ण है। तो रोगी एक प्रासंगिकत चिकित्सा व्यवसाई के पास भेजा जाता है।

MBBS करने के बाद करियर विकल्प क्या है?

एमबीबीएस इंटर्नशिप के 1 वर्ष के दौरान छात्र अस्पतालों और स्वास्थ्य सेवा केंद्रों के साथ सलाहकार चिकित्सक महत्वपूर्ण देखभाल इकाइयों में चिकित्सा सहायकों के साथ अन्य लोगों के साथ काम कर सकते हैं। वह सरकार द्वारा स्वास्थ्य अभियान में भी काम कर सकते हैं। और सम्मेलनों के माध्यम से जनता को बीमारियों दवाओ स्वास्थ्य और फिटनेस के बारे में जागरूकता के साथ मदद कर सकते हैं।


इंटर्नशिप पूरा होने पर छात्र खुद को मेडिकल काउंसलिंग ऑफ इंडिया (MCI) के साथ डॉक्टरों के रूप में पंजीकृत करवा सकते हैं। वे या तो चिकित्सा विज्ञान में स्नातक डिग्री के लिए आवेदन कर सकते हैं। अर्थात MD/MS या योग्य डॉक्टरों के रूप में स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में काम करना जारी रख सकते हैं।


चिकित्सक विज्ञान में आगे की शिक्षा प्राप्त करने के दौरान एमबीबीएस डिग्री धारक भी अनुसंधान सहयोगियों के रूप में फॉर्मक्यूटिकल के साथ जुड़ सकते हैं। इसके अलावा एमबीबीएस स्नातक के लिए संयुक्त चिकित्सा सेवा परीक्षा लेने का विकल्प हमेशा खुला रहता है । उनके अस्पतालों रक्षा क्षेत्र रेलवे सहित स्थानीय और राज्य सरकार के साथ केंद्र सरकार के संगठनों के साथ नियोजित किया जा सकता है।

MBBS के कोर्स की Eligibilty क्या है?

इसको करने के लिए आपको 12 में Physics, Chemistry, Biology से पास करना बहुत आवश्यक है। आपके अंक 50%या उससे अधिक होना भी जरूरी है। MBBS में प्रवेश पाने के लिए आप की उम्र 17 से 25 वर्ष के बीच होनी बहुत जरूरी है।


आज के समय में MBBS की प्रवेश एग्जाम NEET ही कंडक्ट करता है। अगर किसी भी सरकारी या प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं, तो आपको NEET के प्रवेश एग्जाम को पास करना होता है। इस एग्जाम को पास किए बिना आप एमबीबीएस के लिए किसी भी कॉलेज में दाखिला नहीं ले सकते।

MBBS की अवधि क्या है?

डॉक्टर की पढाई करने के लिए एमबीबीएस की अवधि 5.5 वर्ष की होती है। इसमें 4.5 वर्ष की Theory & Practical कराया जाता है। इसके बाद एक वर्ष की Internship करने के बाद एमबीबीएस का प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाता है। इसके बाद आधिकारिक तौर पर क्लिनिक, हॉस्पिटल में मरीजों का उपचार कर सकतें हैं।

MBBS से जुड़ी कुछ ज़रूरी बातें।

● कोर्स के बाद आप की किसी सरकारी या प्राइवेट हॉस्पिटल में काम कर सकते है। जहां आप की तंखुवा 50,000के आसा पास होगी। समय और अनुभव के साथ साथ ये salary लाखों तक जायेगी। इसके अलावा आप खुद का क्लीनिक खोल कर भी पैसे कमा सकते है।
● इसको करने के बाद आप के नाम के आगे DR लग जाता हैं।
● इस कोर्स पूरा करने में 5.5 साल जितना समय लग जाता है।

Conclusion

दोस्तों आज हमने आपको एमबीबीएस के बारे में पूरी जानकारी दी है। जिसमें MBBS kya hai, MBBS Full Form, एमबीबीएस एग्जाम पैटर्न, एमबीबीएस कोर्स फीस, एमबीबीएस जॉब प्रोफाइल, एमबीबीएस जॉब एरिया, एमबीबीएस जॉब स्कोप, एमबीबीएस करियर विकल्प, एमबीबीएस कोर्स की मान्यता, एमबीबीएस अवधि। MBBS करने के बाद आपके घरवाले वालों के साथ-साथ आपके मोहल्ले तथा रिलेटिव भी बहुत प्राउड फील करते हैं। तथा एमबीबीएस करने के बाद आप सामाजिक सेवा भी कर सकते हैं। मुझे उम्मीद है कि आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा।

Read More: All Full Form List

Leave a Reply